सभी के लिए स्मार्ट सिटीज़: टूलकिट

आईसीटी पहुंच और विकलांग व वृद्ध व्यक्तियों के डिजिटल समावेश पर ध्यान देने के कार्य में पूरे विश्व में स्मार्ट सिटीज़ की सहायता के लिए इस टूलकिट मंन चार टूल दिए गए हैं।

टूलकिट स्मार्ट सिटी से संबंधित कई संगठनों और भूमिकाओं का समर्थन करता है, जिसमें सरकारी मैनेजर, नीति निर्माता, आईटी पेशेवर, अक्षमता अधिवक्ता, खरीद अधिकारी, प्रौद्योगिकी आपूर्तिकर्ता और डेवलपर्स, जो स्मार्ट सिटी ऐप्स और समाधानों को डिज़ाइन करते हैं, शामिल हैं।

प्रत्येक टूल वैश्विक विशेषज्ञों द्वारा स्मार्ट सिटीज़ में विकलांगों और वृद्ध व्यक्तियों के डिजिटल समावेशन में बाधा के तौर पर पहचान की गई प्राथमिकता चुनौती को संबोधित करता है।

डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध चार टूल्स में से प्रत्येक का संक्षिप्त विवरण नीचे दिए गए संक्षिप्त दस्तावेज़ में दिया गया है।

हिंदी में PDF fileOpens in a new window

(आईसीटी) मानक स्मार्ट सिटीज़ के लिए एक अधिक समावेशी दृष्टिकोण को डिजाइन करने के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। यह गाइड तीन प्रमुख मानकों की एक सूची प्रदान करती है, जो आईसीटी पहुंच के योग्यता मानदंडों को परिभाषित करते हैं और ऐसी प्रभावकारी कार्यवाहियों की एक कदम-दर-कदम जांच सूची प्रस्तुत करती है, जिनसे नेता यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि उनके शहर इन मानकों से परिचित हैं और साथ ही अपने शहर की आईसीटी पहुंच में सुधार के लिए प्रभावी ढंग से उनका उपयोग कर सकते हैं।

‘प्राथमिकता आईसीटी पहुँच के मानकों को कार्यान्वित करने के लिए गाइड’ डाउनलोड करें:
हिंदी में PDF fileOpens in a new window

दुनिया भर में स्मार्ट सिटीज़ को, विकलांगों और वृद्ध व्यक्तियों के अधिकारों और डिजिटल समावेश को उन्नत बनाने में, आईसीटी सहित अपनी उम्दा क्रय शक्ति का उपयोग करने के लिए विशिष्ट स्थानों पर स्थापित किया गया है। यह गाइड शहरों को ऐसी नीति को अपनाने में सहायता करती है, जिसके लिए किसी भी आईसीटी खरीद को विकलांग और वृद्ध व्यक्तियों के लिए सुलभ होना आवश्यक है। गाइड एक आदर्श खरीद नीति का वर्णन करती है और इसे अपनाने के लिए कदम-दर-कदम चेकलिस्ट भी प्रदान करती है।

‘आईसीटी पहुंच क्षमता प्राप्ति नीति को अपनाने के लिए गाइड’ डाउनलोड करें:
हिंदी में PDF fileOpens in a new window

अधिक समेकित स्मार्ट सिटीज़ बनाने के लिए सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक है: विकलांगता और आईसीटी पहुंच के बारे में जागरूकता बढ़ाना। यह टूल शहर की डिजिटल सेवाओं में आईसीटी पहुंच को शामिल करने के फायदों के प्रभावी संचारण में मदद के लिए बनाया गया है। विकलांग व्यक्तियों के डिजिटल समावेश के प्रति अधिक मजबूत प्रतिबद्धता के लिए यह व्यापार, मानव अधिकार और तकनीकी तर्क प्रदान करता है। इसका उपयोग विभिन्न हितधारकों से इस बारे में बेहतर संवाद स्थापित करने के लिए किया जा सकता है, कि स्मार्ट सिटी को एक सुलभ शहर भी होना चाहिए।

‘शहरों में डिजिटल समावेशन के प्रति अधिक मजबूत प्रतिबद्धता के लिए मामले का संचारण’ डाउनलोड करें:
हिंदी में PDF fileOpens in a new window

जिन स्मार्ट सिटीज़ के कार्यक्रमों और समाधानों में आईसीटी तक पहुंच शामिल है, वे विकलांग लोगों, वृद्ध नागरिकों और पूरी आबादी के लिए भारी लाभ प्रदान कर सकती हैं। यह टूल उन मौजूदा उत्पादों और समाधानों को प्रदर्शित करने के लिए डिज़ाइन किया जा रहा है, जिन्हें स्मार्ट सिटीज द्वारा महत्वपूर्ण क्षेत्रों, जैसे स्वतंत्र जीवन, सार्वजनिक सुरक्षा, परिवहन, रोजगार, और ऑनलाइन सार्वजनिक सेवाओं, में नागरिकों को सकारात्मक रूप से प्रभावित करने के लिए उपयोग किया जा सकता है। डेटाबेस को अल्फा संस्करण में लॉन्च किया जा रहा है, जिसमें शामिल हैं, अवधारणा का एक प्रमाण, परीक्षण के लिए रोडमैप, डाटाबेस में वर्तमान में मौजूद 350 से अधिक समाधानों के उदाहरण और डेटाबेस को बढ़ाना जारी रखने के लिए तब तक की आवश्यक कार्यवाही की प्रक्रिया, जब तक हम इसे बीटा संस्करण तक ले जाते हैं।

‘शहरों में डिजिटल समावेश के लिए समाधानों का डेटाबेस’ डाउनलोड करें (अल्फा संस्करण):
हिंदी में PDF fileOpens in a new window

विकास में नए टूल्स

‘सभी के लिए स्मार्ट सिटीज़’ पहल ने एक नया टूल विकसित करना शुरू किया है; ‘स्मार्ट सिटीज़ डिजिटल समावेशन परिपक्वता मॉडल’. यह टूल स्मार्ट सिटीज़ को शहर के कार्यों के विस्तृत क्षेत्र में आईसीटी पहुंच और डिजिटल समावेशन को प्राप्त करने की दिशा में हुई प्रगति का स्पष्ट रूप से मूल्यांकन करने में मदद करेगा। इस नए टूल का अल्फा संस्करण जुलाई, 2017 में उपलब्ध होगा।